कोल साइडिंग से प्रदूषण के खिलाफ अकलतरा विधायक की पीआईएल पर राज्य को नोटिस

0
136

 

भास्कर येवले
जिला प्रतिनिधी

बिलासपुर, 27 अगस्त। अकलतरा में कोलवाशरी की साइडिंग से फैल रहे औद्योगिक प्रदूषण के खिलाफ विधायक सौरभ सिंह द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने सीसीआई सीमेन्ट फैक्ट्री, पर्यावरण संरक्षण बोर्ड, नगरपालिका और राज्य शासन को नोटिस जारी कर तीन सप्ताह के भीतर जवाब मांगा है।
याचिका में कहा गया है कि सन् 1981 में सीसीआई सीमेन्ट फैक्ट्री से उत्पादन शुरू हुआ था जो सन् 1996 में बंद हो गई। सीमेन्ट के लिये सीसीआई को कोल साइडिंग मिली हुई थी। फैक्ट्री बंद होने के बाद लीज समाप्त हो गई थी। इसके बाद बिना लीज बढ़ाये सीसीआई ने महावीर कोलवाशरी को कोयला परिवहन के लिये यह साइडिंग सौंप दी। कोल साइडिंग से निकलने वाले कार्बन मोनो ऑक्साइड के कारण पास स्थित प्रायमरी स्कूल के बच्चों को गंभीर बीमारी का खरता है। आसपास के खेतों की फसल बर्बाद हो रही है। परिवहन के चलाई जा रही भारी वाहनों के कारण कई लोगों की मृत्यु और चुकी है और कई ग्रामीण घायल भी हो गये हैं। यहां की सडक़ भी खराब हो चुकी है। पानी का छिडक़ाव नहीं होने, सडक़ के खराब होने, नाली नहीं होने के कारण अकलतरा के कई वार्डों में लोगों को परेशानी हो रही है। इन्होंने सन् 2015 में कलेक्टर व अन्य अधिकारियों से इसकी शिकायत की थी।
याचिकाकर्ता सौरभ सिंह की ओर से बताया गया कि उन्होंने स्वयं इसे लेकर कई बार सम्बन्धित विभागों में शिकायत की है। सन् 2017 में पर्यावरण संरक्षण विभाग के अधिकारियों ने स्थल का निरीक्षण किया था और अनेक खामियां पकड़ी थीं। इसके बावजूद अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है